आपके आइडिया ऑफ इंडिया में न सिर्फ त्रुटियां और खामियां हैं, बल्कि यह बेहद खतरनाक भी है. क्योंकि आपका आइडिया ऑफ इंडिया भारतवर्ष के हजारों वर्षों के इतिहास को नकारता है. राहुल गांधी को लंदन की कैंब्रिज यूनिवर्सिटी में भारतीय अधिकारी ने चाणक्य और वेदों का उल्लेख करके पढ़ाया राष्ट्रवाद का पाठ.

राहुल गांधी  इन दिनों ब्रिटेन में हैं और उनके पिछले कई दौरों की तरह इस दौर में भी विवादों ने उनका पीछा नहीं छोड़ा. सोमवार 23 मई 2022 को कांग्रेस नेता ने यहां कि कैंब्रिज यूनिवर्सिटी में ‘इंडिया एट 75’ मुद्दे पर छात्रों को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने कुछ ऐसी बातें कहीं, जो कई लोगों को नागवार गुजरीं. खासतौर पर वहीं सभागार में मौजूद भारतीय सिविल सेवा अधिकारी सिद्धार्थ वर्मा को. सिद्धार्थ वर्मा ने मंगलवार 24 मई को एक वीडियो ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने राहुल गांधी के ‘आइडिया ऑफ इंडिया’ (Idea of India) पर आपत्ति जताई थी. सिद्धार्थ वर्मा भारतीय रेलवे में ट्रैफिक सर्विस अफसर हैं और कैंब्रिज यूनिवर्सिटी (Cambridge University) में पब्लिक पुलिस विषय पर कॉमनवेल्थ के शोधार्थी हैं.

कार्यक्रम के दौरान राहुल गांधी के ‘आइडिया ऑफ इंडिया’ पर सिद्धार्थ वर्मा ने उनके बयान से आपत्ति जताते हुए उन्हें राष्ट्रधर्म का पाठ भी पढ़ा दिया. इस वीडियो में सिद्धार्थ वर्मा राहुल गांधी को कहते हुए सुनाई देते हैं, ‘आपने सविंधान के आर्टिकल 1 का उल्लेख किया, जिसमें भारत को राज्यों का संघ (Union of States) कहा गया है. अगर आप पन्ना पलटेंगे और प्रस्तावना को पढ़ेंगे तो वहां भारत को एक राष्ट्र बताया गया है. भारत दुनिया की सबसे पुरानी सभ्यताओं में से एक है और यहां के वेदों (Vedas) में भी राष्ट्र शब्द का उल्लेख है. हम एक बहुत पुरानी सभ्यता हैं. यहां तक कि जब चाणक्य (Chanakya) तक्षिला में छात्रों को पढ़ाते थे तो उन्होंने भी स्पष्ट तौर पर कहा, आप सब अलग-अलग जनपदों से हो सकते हैं, लेकिन आप सभी एक राष्ट्र से जुड़े हैं और वह भारत है.’

सिद्धार्थ वर्मा ने जब राष्ट्रवाद पर राहुल गांधी को जवाब दिया तो राहुल गांधी ने उनसे पूछा, ‘क्या उन्होंने नेशन (देश) शब्द का इस्तेमाल किया?’ इस पर सिविल सेवा अधिकारी ने कहा नहीं, मैंने राष्ट्र शब्द का इस्तेमाल किया. इसके बाद राहुल गांधी ने कहा, राष्ट्र का मतलब किंगडम (राजा का राज्य) होता है. अधिकारी ने एक बार फिर राहुल गांधी से कहा, नहीं, नेशन का संस्कृत अनुवाद राष्ट्र होता है.

राष्ट्र को पश्चिमी अवधारणा बताने पर अधिकारी ने कहा, ‘जब मैं राष्ट्र की बात करता हूं तो मैं सिर्फ राजनीतिक तौर पर बात नहीं करता, क्योंकि हम ऐसे एक्सपेरिमेंट पूरी दुनिया में कर चुके हैं. जब तक किसी राष्ट्र के सामाजिक और सांस्कृतिक संबंध मजबूत नहीं होंगे, तब तक सिर्फ एक संविधान से राष्ट्र का निर्माण नहीं हो सकता.’ इसके बाद रेलवे ट्रैफिक सर्विस अफसर ने राहुल गांधी के ‘आइडिया ऑफ इंडिया’ पर प्रश्न उठाते हुए कहा, ‘क्या आपको नहीं लगता कि एक राजनीतिक नेता होने के नाते आपके आइडिया ऑफ इंडिया में न सिर्फ त्रुटियां और गलतियां हैं, बल्कि यह खतरनाक भी है, क्योंकि यह हजारों वर्षों के इतिहास को नकारता है.’

कांग्रेस नेता ने सिद्धार्थ वर्मा से असहमति जताते हुए कहा, मुझे ऐसा नहीं लगता. सिद्धार्थ वर्मा द्वारा ट्वीट किया गया वीडियो यहीं पर खत्म हो जाता है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.